बलात्कार के फरार आरोपी को पुलिस ने धरदबोचा, राजकार्य में बाधा पहुंचाने का मामला दर्ज कर भेजा जेल

बालात्कार के आरोपी को बागीदौरा मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश करने गई सल्लोपाट थाना पुलिस की हिरासत से छूटकर भागे आरोपी के खिलाफ आनंदपुरी थाना पुलिस ने भी राजकार्य में बाधा पहुंचाने का प्रकरण दर्ज किया है। आरोपी जालमपुरा निवासी गटू पुत्र भूरजी कटारा ने नाहरपुरा के जंगल में एएसआई हरीश के साथ मारपीट की थी। साथ ही भागते समय पथराव भी किया था। इस पर पुलिस ने एक और प्रकरण दर्ज कर लिया है। सल्लोपाट थाना प्रभारी कपिल पाटीदार ने बताया कि आरोपी गटू को गिरफ्तार कर गुरुवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से गटू को पन्द्रह दिन के लिए न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश हुए हैं। वहीं सस्पेंड किए गए एएसआई एवं कांस्टेबल को बहाल कर दिया गया है।

जंगल के रास्ते से आवागमन कर रहा था आरोपी
एसआई पाटीदार ने बताया कि आरोपी बागीदौरा जज के घर से फरार होने के बाद जंगल के रास्तों से सुहागपुरा गांव के पास अपनी बुआ की लडक़ी के घर पहुंचा। रात अधिक होने की वजह से आरोपी ने वहां किसी को कुछ भी नहीं बताया और वह वहीं घर के बाहर सोया। इसके बाद अगले दिन जंगलों के रास्तों से ही वापस अपने गांव जालमपुरा पहुंचा, जहां उसने कमजी के फोन से गुजरात संपर्क किया था। पुलिस को जैसे ही यह भनक लगी तो पुलिस ने कमजी से पूछताछ की तो कमजी ने उगल दिया कि आरोपी गटू गांव के पास ही नाले पर नहा रहा है। इस पर पुलिस जब नाले तक पहुंची तो आरोपी वहां से पुलिस को देखकर दोबारा भाग गया। इसके बाद वह नाहरपुरा के जंगल में घुस गया, जिसको ढूंढने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

Leave a comment

Post Author: harshit_tailor